जीवन में सुख-समृद्धि और धन-दौलत पाने के लिए करें लौंग के ये आसान उपाय

ज्योतिषीय दृष्टि से भी लौंग का बहुत महत्व है। वास्तुशास्त्र के अनुसार लौंग का इस्तेमाल जीवन में सुख-समृद्धि और धन पाने के लिए भी किया जा सकता है। आज के इस लेख में हम आपको लौंग के वास्तु उपाय बताने जा रहे हैं।

हिंदू धर्म में पूजा-पाठ और ज्योतिषीय उपायों में लौंग का इस्तेमाल होता है। ज्योतिषीय दृष्टि से भी लौंग का बहुत महत्व है। वास्तुशास्त्र के अनुसार लौंग का इस्तेमाल जीवन में सुख-समृद्धि और धन पाने के लिए भी किया जा सकता है। आज के इस लेख में हम आपको लौंग के वास्तु उपाय बताने जा रहे हैं –

कई बार ऐसा होता है कि बहुत कोशिशों के बाद भी हमारा कोई काम बनते-बनते बिगड़ जाता है। अगर आपका कोई काम बहुत समय से रुका हुआ है तो एक पान के पत्ते में लौंग, इलायची और सुपारी लपेट कर गणेश जी को अर्पित करें। ऐसा करने से आपके सभी रुके काम बिना किसी बाधा के पूरे हो जाएंगे।

इसे भी पढ़ें: भारत में इस दिन लगेगा वर्ष का आखिरी सूर्य ग्रहण, इन राशि वालों को रहना होगा सतर्क

अगर घर में कोई बार-बार बीमार हो रहा हो या परिवार के सदस्यों के बीच लड़ाई-झगड़े हो रहे हों तो यह घर में नकारात्मक ऊर्जा का संकेत हो सकता है। घर में नकारत्मकता को दूर करने के लिए लौंग 7-8 लौंग को किसी तवे पर रखकर जला लें और इसे घर के किसी कोने में रख दें। ऐसा करने से घर में पॉजिटिविटी आती है।  

हिंदू धर्म में पूजा-पाठ में लौंग के इस्तेमाल का बहुत महत्व है। ज्योतिषशास्त्र के अनुसार घर के मंदिर में सुबह भगवान की आरती करते समय दीपक में दो लौंग डालकर आरती करें। ऐसा करने से आपके घर का वातावरण शुद्ध और शांत रहेगा और घर में नकारत्मक ऊर्जा का प्रवेश नहीं होगा।

इसे भी पढ़ें: अगर हथेली पर बन रहा है यह निशान तो भाग्यशाली हैं आप, बनेंगे बड़े बिजनेसमैन

अगर आप आर्थिक तंगी से जूझ रहे हैं और बहुत कोशिशों के बाद भी धन अर्जित नहीं कर पा रहे हैं तो यह उपाय करें। इसके लिए सात काली मिर्च और लौंग को अपने सिर से घुमाकर किसी ऐसी जगह पर फेंक दें जहाँ कोई आता-जाता ना हो। ध्यान रहे कि लौंग को चारों दिशा में फेंके और इसके बाद पीछे मुड़कर ना देखें। 

अगर आपके घर में आए दिन लड़ाई-झगड़ा होता रहता है तो हर शनिवार को कपूर और लौंग जलाकर घर के मुख्य द्वार के बाहर रख दें। ऐसा करने से घर से नकारत्मक ऊर्जा निकल जाएगी और घर में सुख-शान्ति का वास होगा।

– प्रिया मिश्रा

Advertisements
Loading...
Advertisement 1

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here