ग्वालियर। कोरोना संक्रमण एक बार फिर से रिटर्न हो रहा है। इससे बचने के लिए प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग हर स्तर पर लापरवाई कर रहा है। हालात यह हो गए हैं कि दस दिन में तीन पॉजिटिव आ चुके हैं। उसके बावजूद भी इससे बचने के लिए कोई कदम नहीं उठाया रहा। स्वास्थ्य विभाग को हर दिन 3500 लोगों के सैंपल लेने हैं। यह आंकड़ा पिछले कई दिनों से पूरा नहीं हो सका है।

स्वास्थ्य विभाग केवल और केवल कोरोना के सैंपल लेने के लिए रेलवे स्टेशन पर अपनी टीम भेज रही है, लेकिन यह टीम सिर्फ चौबीस घंटे में छह घंटे ही बैठ रही है। इन छह घंटों में जो भी यात्री यहां से निकलता है तो उसका सैंपल ले लिया जाता है, जबकि ट्रेनें चौबीस घंटे आ जा रही हैं, लेकिन स्वास्थ्य विभाग को सिर्फ छह ही घंटे में कोरोना के मरीजों का इंतजार रहता है।

भीलवाड़ा और सिलीगुड़ी से ट्रेनों से आए छात्र

इंजीनियरिंग की पढ़ाई करने के लिए टेकनपुर में एक कॉलेज में राजस्थान के भीलवाड़ा और बेस्ट बंगाल के सिलीगुड़ी से छात्र आए हैं। यह दोनों ही छात्र जांच में पॉजिटिव निकले हैं, लेकिन इन दोनों की जांच अगर रेलवे स्टेशन पर हो जाती तो दूसरे लोगों तक यह नहीं पहुंच पाता, लेकिन इस ओर जिम्मेदार स्वास्थ्य विभाग नहीं देख रहा है। अगर समय रहते अब ऐसे छात्रों की जांच रेलवे स्टेशन पर ही नहीं की गई तो आने वाले समय में हालात बिगड़ सकते हैं और कोरोना तेजी से बढ़ सकता है।

बीते दिनों हुई सैंपलिंग

21 नवंबर- 1534
22 नवंबर- 2270
23 नवंबर- 2345
24 नवंबर- 2596
25 नवंबर- 2479
26 नवंबर- 2241
27 नवंबर- 1553

Advertisements
Loading...
Advertisement 1

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here